Monday, January 21, 2019

UP: 69000 सहायक शिक्षक भर्ती परीक्षा परिणाम पर 28 जनवरी तक रोक



इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने सोमवार को योगी सरकार की दूसरी सबसे बड़ी शिक्षक भर्ती परीक्षा के परिणाम पर 28 जनवरी तक रोक लगा दी है. 6 जनवरी 2019 को 69 हजार पदों के लिए हुई शिक्षक भर्ती परीक्षा का परिणाम 22 जनवरी को घोषित किया जाना था. सोमवार को लगभग दो घंटे चली बहस के बाद हाईकोर्ट ने फिलहाल यथास्थित बरकरार रखने का आदेश दिया है। मामले में अगली सुनवाई 28 जनवरी को होगी.  इससे पहले उत्तर प्रदेश में सहायक शिक्षकों के 69 हजार पदों पर भर्ती की परीक्षा के क्वालिफाइंग मार्क्स को हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच के समक्ष चुनौती दी गई थी.

पिछली सुनवाई में इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खण्डपीठ ने 6 जनवरी को हुई लिखित परीक्षा के परिणाम घोषित करने के बावत राज्य सरकार को यथास्थिति बरकरार रखने का आदेश दिया था. यह आदेश जस्टिस राजेश सिंह चैहान की खंडपीठ ने मोहम्मद रिजवान व अन्य की ओर से अलग अलग दायर कई याचिकाओं पर एक साथ सुनवाई करते हुए पारित किया.

याचियों की ओर से वरिष्ठ वकील एलपी मिश्रा, एचजीएस परिहार, उपेंद्र मिश्रा हाजिर हुए जबकि राज्य सरकार की ओर से मुख्य स्थायी अधिवक्ता श्रीप्रकाश सिंह व अपर मुख्य स्थायी अधिवक्ता रणविजय सिंह ने पक्ष रखा.

गौरतलब है कि सामान्य वर्ग में 65 और आरिक्षत वर्ग में 60 फीसदी अंक पाने वाले अभ्यर्थी ही इस परीक्षा में क्वालिफाई मानें जाएंगे जो शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन कर सकते हैं. यह कटऑफ 2018 की शिक्षक भर्ती के मुकाबले 20 फीसदी अधिक है. 2018 की शिक्षक भर्ती परीक्षा में 40 और 45 फीसदी कटऑफ अंक रखे गए थे.

इससे पहले शिक्षामित्रों का कहना है कि जुलाई 2017 में सुप्रीम कोर्ट ने जब उनका समायोजन रद्द किया तो यह भी कहा था कि आगामी दो भर्तियों में उनको वेटेज अंक और उम्र में छूट दी जाएगी. इसमें से 68500 पदों की एक भर्ती 2018 में हो चुकी है और 69 हजार पदों की दूसरी परीक्षा हाल ही में 6 जनवरी को हुई है. परीक्षा से पहले किसी तरह का कटऑफ तय नहीं किया गया था.

SHARE THIS

0 coment⳩os: