Saturday, December 15, 2018

राफेल मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसला : कांग्रेस का झूठ हुआ बेनकाब


फ्रांस के साथ 36 राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद के बहुचर्चित सौदे में कथित भ्रष्टाचार की कोर्ट की निगरानी में जांच की मांग वाली याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला आ गया है।  शुक्रवार को SC ने अपना फैसला सुनाते हुए कहा कि उसे 36 राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद के NDA सरकार के फैसले में कोई अनियमितता नहीं मिली है। इसके साथ ही कोर्ट ने राफेल डील को लेकर दाखिल की गई सारी याचिकाएं भी खारिज कर दी।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, 'इस प्रक्रिया को लेकर हम संतुष्ट हैं और संदेह की कोई वजह नहीं है। कोर्ट के लिए यह सही नहीं है कि वह एक अपीलीय प्राधिकारी बने और सभी पहलुओं की जांच करे।' कोर्ट ने साफ कहा, 'हमें कुछ भी ऐसा नहीं मिला जिससे लगे कि कोई कॉमर्शल पक्षपात हुआ हो।'  CJI रंजन गोगोई ने कहा कि ऑफसेट पार्टनर के विकल्प में दखल देने की भी कोई वजह नहीं है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ में राफेल मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर कांग्रेस और राहुल गांधी से देश से माफी मांगने की मांग की है।   योगी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले से कांग्रेस का झूठ और फरेब उजागर हो गया है। योगी ने कहा कि राजनीतिक लाभ लेने के लिए कांग्रेस ने राफेल मुद्दे को तूल दिया और केंद्र सरकार को बदनाम करने की कोशिश की।

भाजपा प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा है कि राफेल मामले में राहुल गांधी ने लगातार झूठ बोला है।  उनकी ओर से  फैलाए जा रहे झूठ और दुष्प्रचार की कल सुप्रीम कोर्ट ने धज्जियां उड़ा कर रख दी है। झूठ बोलकर बयानबाजी कर राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद की गरिमा कम की है।

राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट से राहत मिलने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी कांग्रेस पर हमलावर हो गए हैं। कांग्रेस राज के घोटालों का जिक्र करते हुए पीएम ने आज कहा कि यह पार्टी ऐसा कर पैसे बनाती है। मोदी ने कहा, 'दुख की बात है कि कांग्रेस के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा और डिफेंस सेक्टर सिर्फ एक पंचिंग बैग या फंडिंग सोर्स हैं। एक तरफ कांग्रेस नेता आर्मी चीफ का नाम लेकर सर्जिकल स्ट्राइक का मजाक उड़ाते हैं और दूसरी तरफ उन्होंने देश के डिफेंस सेक्टर को लूटा है।

मोदी ने कहा, '40-50 के दशक के जीप घोटाले से 80 के दशक के अगुस्टा वेस्टलैंड, सबमरीन घोटाला, जैसे कई हैं। वे लोग सिर्फ रुपये बनाने का रास्ता ढूंढते हैं ।

SHARE THIS

0 coment⳩os: